आक से करे घुटने,एडी और कमर दर्द से छुटकारा

0
316

आक का उपयोग दर्दों के लिए

सिर्फ 10 मिनट में घुटने एडी और कमर दर्द का करें जड़ से सफाया हेलो दोस्तो आज के आर्टिकल मैं आपको बताने वाला हूं कि कैसे घुटने और कमर दर्द को करें मात्र 10 मिनट में जड़ से सफाया आक के इस प्रयोग से दोस्तों आक (मदार) (आंकड़ा ) आदि नामों से जाना जाता है आयुर्वेदिक चिकित्सा विज्ञान में प्राचीन काल से यह एक दिव्य औषधि है इसके बारे में एक बात प्रसिद्ध है कि यह सूर्य की तेज के साथ बढ़ता है और सूर्य का तेज कम होने के साथ-साथ इसका प्रभाव भी कम होता जाता है और बारिश के मौसम में इस पौधे का प्रभाव बिल्कुल खत्म हो जाता है सूर्य के जितने नाम है उतने नाम आक के भी हैं वैसे तो इसकी 4 प्रजाति हैं लेकिन मुख्य तो दो प्रजाति पाई जाती हैं वैसे तो ऐसा कोई रोग नहीं जिसमें इसका उपयोग ना हो यह भयंकर से भयंकर रोग में भी अपना विशेष असर दिखाता है|
आक
आक का घुटने ,एडी कमर दर्द में उपयोग
 

 कुछ ध्यान देने की बातें 

 
मगर आज हम इसके 1 गुण जो शरीर का दर्द किसी भी हिस्से का हो उस पर ही चर्चा करेंगे आक में ऐसे गुण पाए जाते हैं जिसके कारण यह अति विशेष है दोस्तों आक में ऐसे रसायन पाए जाते हैं इन रसायनों के होने के कारण ही इसमें शरीर में हर हिस्से के दर्द को हरने की क्षमता पाई जाती है जैसे गठीया का दर्द एड़ी का दर्द कमर दर्द दोस्तों यानी कोई भी मांसपेशियों और हड्डियों से संबंधित कैसा भी दर्द हो इसके निरंतर इस्तेमाल करने से आपको आचार्यजनक प्रभाव देखने को मिलता है
इसके प्रयोग में सावधानी भी हैं जिनका पालन आप लोगों को जरूर करना है वरना परिणाम आप लोगों को ही भुगतने पड़ेंगे तो दोस्तों जानते हैं |
 

  

आक के चार दर्दों के लिए उपाय 

 
1–  आक विभिन्न प्रयोगों के बारे में एडी के दर्द में आक के 15 फूलों को एक कटोरी पानी में उबाल लीजिए इसके बाद फूलों को और पानी को अलग अलग कर लीजिए|  अब इस गर्म पानी से एड़ी की धुलाई करें अब इन फूलों को अच्छे से निचोड़ कर किसी सूखे कपड़े की सहायता से एड़ी पर बांध लीजिए और बांधने के बाद उसके ऊपर जुराब या जूते पहन ले यह प्रयोग आपको 10 से 15 दिन करना है|
 
 
 2-  एड़ी के दर्द का दूसरा उपाय आक के पत्ते को तवे पर गर्म कर लीजिए और इस पर तिल का तेल लगा लीजिए और पत्ते को कपड़े की सहायता से एड़ी पर बांध लीजिए और बांधने के बाद उस पर किसी चीज से गर्म सिकाव करें सिकाव करने से पत्ते का रसायन एड़ी के अंदर जा पाएगा और वहां पर तुरंत आराम का एहसास होगा और इस उपाय को भी आप 10 से 15 दिन तक करे | 
 
 3–अब जानते हे घुटनों के दर्द के विषय में घुटनों के दर्द में दोपहर में आक की ताजा डंडी में से दूध निकालकर इसको हल्के हाथों से घुटनों पर मालिश करनी है जब तक यह पूरा अवशोषित ना हो जाए ऐसा दिन में दो बार करें यह प्रयोग आपको 10 से 15 दिन तक करना है आपको काफी फर्क देखने को मिलेगा |
 
4-कमर के दर्द में आक के दूध में थोड़े काले तिलों को मिलाकर खूब खरल कर ले जब यह पतला लेप सा हो जाए उसे गर्म कर दर्द वाले स्थान पर लगा कर अच्छे से मालिश करें जिस से अंदर तक अबशोषित हो जाए दोस्तों यह शरीर के दर्द में बहुत तेजी से काम करता है अगर आप इन नुख्शों को आजमाते हैं तो आपको (एड़ी का दर्द) (कमर दर्द)( और घुटने के दर्द) के विषय में आपको जो परिणाम मिलेंगे आप देख कर चौक जाएंगे तो दोस्तों यह था हमारा शरीर के दर्द का रामबाण नुख्शा 

दोस्तों आशा करता हूं आपको हमारा आर्टिकल पसंद आएगा तो लाइक और शेयर अवश्य करें धन्यवाद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here