कमर दर्द के कारण

0
363

कमर दर्द के कारण -back pain reason

कमर दर्द एक लक्षण मात्र है स्वयं कोई रोग नहीं है निष्क्रिय आराम में जीवन के कारण कमर के स्नायु कमजोर पड़ जाते हैं जिससे कमर दर्द होता है स्नायु के ठंड से कमर दर्द हो जाता है अचानक उत्पन्न अकड़न से तेज दर्द होता है मांसपेशियों में अकड़न होता है कमर के स्नायुयो में लगातार संकुचन स्नायु की आंतरिक केशवाही नियों को बंद कर देता है |

कमर दर्द के कारण

इससे स्नायुयो को आवश्यक पोषण नहीं मिलता और स्नायुयो में इकट्ठा कचरा या विष को बाहर निकालने का काम रुक जाता है विष के जमाव तथा पोषण नहीं होने से अकड़न की स्थिति में रहे हुए स्नायु दर्द करते हैं | यदि कमर के स्नायुयो ताकतवर हो और कूल्हे की हड्डियों को सदा संतुलित अवस्था में रखा जाए तो स्नायुयो में अकड़न उत्पन्न नहीं होता कमर पर अथवा गर्भाशय के ऑपरेशन के बाद कमर दर्द हो सकता है |

आयु व विकृत परिवर्तन

जब इंसान की आयु बढ़ने लगती है तो उसके साथ-साथ कमर की हड्डियां जिसने विकृत होने लगती हैं कभी-कभी कोई जोड़ टूट भी जाता है |

चक्र खिसकना

कभी-कभी भारी शारीरिक श्रम करने से कमर की हड्डियों का कोई चक्र अपनी जगह से बाहर उभर आता है जिसके कारण कमर दर्द साइटिका का दर्द होने लगता है और यह ज्यादा भारी वजन के उठाने के कारण अधिकतर होता है |

एक स्थिति में लंबे समय तक काम करने से कमर की मांसपेशियों कमजोर हो जाती हैं एक स्थिति में नहीं रह कर थोड़ी थोड़ी देर बाद स्थिति बदलें बैठे हो तो कुछ देर के लिए खड़े हो जाएं और खड़े हो तो कुछ देर के लिए लेट जाएं और बैठ जाएं इससे कमर दर्द होने से बचाओ मिलता है |

गलत ढंग से चीजें उठाना

यदि नीचे से कोई चीज उठानी हो तो आगे घुटने मोड़कर झुके और अपनी शक्ति के अनुसार वजनी चीज उठानी चाहिए जिसकी वजह से कमर दर्द होने के खतरे बहुत कम हो जाते हैं |

तनाव- मानसिक तनाव से कमर के नीचे के भाग में दर्द हो जाता है मानसिक तनाव क्रोध से सांस रुक जाता है रीड की मांसपेशियों में तनाव आ जाता है चिंता तनाव के कारण गर्दन के नीचे या पीठ के मध्य भाग में दर्द होने लगता है |

कभी-कभी कमर दर्द इतना तेज और असहनीय होता है कि रोगी दर्द से तड़पने लगता है उसका हिलना डुलना बंद हो जाता है ऐसा दर्द भी मानसिक कारणों से होता है मानसिक सोच बदलने से ऐसे दर्द में बहुत लाभ मिलता है चिकित्सक को इस कारणों को दूर करने की सलाह देनी चाहिए |

डीप ब्रीडिंग -विशेषज्ञों का मानना है कि कई बार पीठ का दर्द भयानात्मक तनाव से मांसपेशियों के कड़ा होने के कारण भी हो जाता है ऐसे में चिकित्सक रिलैक्सेशन एवं डीप ब्रीथिंग एक्सरसाइज कराने की सलाह देते हैं | आरामदायक मुद्रा में बैठकर आंखों को मूंद लें अब गहरी सांस लें और 100 से 1 तक उल्टी गिनती गिने ऐसा करने से मांसपेशियों की रिलैक्सेशन हो जाती है और दर्द में बहुत राहत मिलती है |

मासिक धर्म– किसी किसी महिला को मासिक धर्म के आसपास और मासिक धर्म के दिनों में कमर दर्द होता है जो बाद में ठीक हो जाता है |

गर्भाशय में गांठ के कारण भी कमर दर्द हो जाता है |

कमजोरी और शारीरिक विकृतियों के कारण कमर में दर्द हो जाता है | कमर दर्द के सही और वैज्ञानिक कारण अभी नहीं खोजा जा सके अनुमान है कि अत्यधिक वजन अचानक लगा हुआ झटका दुर्घटना गिर जाना अनुचित शारीरिक स्थिति अत्यधिक मानसिक तनाव गर्भाशय अवस्था आदि कारणों के कारण कमर दर्द उत्पन्न हो सकता है | निष्क्रियता शारीरिक श्रम की कमी आराम में दिनचर्य से यह रोग होता है |
हमारी निष्क्रिय दिनचार्य से स्नायु धीरे-धीरे दुर्बल होते रहते हैं | अधिकांश रूप से कमर दर्द के प्रधान कारण दुर्बलता और अनुचित शारीरिक स्थिति उत्पन्न आयुक्त अकड़न को माना गया है |

जोड़ों का खुलना -नस दबना भारी वजन उठाने भारी चीज के धक्का देने लापरवाही से झुकने से जोड़ खुल जाते हैं कोई नस दब जाती है या उसका स्थान सकरा होने से कमर में असहनीय दर्द होता है जो जीवन भर चलता है |

दिनचर्या सुधारें– गरिष्ठ चीजें खाने से अपच हो जाती है पेट में घाव हो जाते हैं | जो शराब जर्दा तंबाकू और तनाव से बढ़ते हैं | इनसे कमर के बीच में दर्द होता है | इसे दूर करने के लिए रीड की हड्डी में खिंचाव पैदा करने वाले व्यायाम नित्य करें | दिनचर्या सुधारें इससे कमर के स्नायु मजबूत होते हैं | और कमर दर्द में राहत मिलती है |

कमर दर्द का कारण- Causes of back pain Hindi

कमर दर्द का लक्षण -Symtoms of back pain Hindi

कमर दर्द का घरेलु इलाज -Home remede of back pain Hindi

कमर दर्द का बचाव – protection of back pain Hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here